राहुल गाँधी आखिरी गाँधी नेहरू साबित होंगे, मोदी के सामने कुछ नहीं : डीजी बंजारा


अविश्वास प्रस्ताव के दौरान जो हुआ वो पुरे देश ने देखा, राहुल गाँधी जिनके पास पहले 144 सांसदों का समर्थन था उनको 126 ही वोट मिले यानि उनके 18 साथियों ने भी उनको वोट नहीं दिया 

जबकि मोदी जिनके पास शिवसेना को मिलाकर 314 थे, और शिवसेना के बायकाट के बाद 297 बचे, पर मोदी को लोकसभा में 325 वोट मिले यानि 28 ऐसे सांसदों का वोट जो न सरकार में है न NDA में और न ही बाहर से  मोदी सरकार को समर्थन दे रहे है 

राहुल गाँधी को उनके ही साथियों ने वोट नहीं दिया जबकि मोदी को विपक्ष के भी 28 वोट मिले, मोदी और राहुल गाँधी की क्या तुलना है इसपर एक बयान डीजी वंजारा ने भी दिया है, जिन्होंने आतंकवादियों से मोदी की जान गुजरात में बचाई थी 
वंजारा ने कहा की मोदी का राहुल गाँधी से कोई मुकाबला नहीं है, राहुल गाँधी एक मंदबुद्धि व्यक्ति है जो हमेशा कन्फुज रहते है, वो मूर्खतापूर्ण हरकतें करते है, मोदी से उनका कोई मुकाबला ही नहीं है 

वंजारा ने ये भी कहा की जिस तरह बहादुरशाह ज़फर आखिरी मुग़ल था, उसी तरह राहुल गाँधी आखिरी गाँधी नेहरू होंगे, मुगलों का काल जिस तरह समाप्त हो गया अब कांग्रेस भी समाप्त होगी