जम्मू को जला देने के अरमान के साथ गिरफ्तार हुई वो महिला जिसने कलंकित किया सभी नारी समाज को


पिछले दिनों ही जम्मू जाने वाली बस में सुरक्षाबालों ने भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया था. इससे पहले कि इस विस्फोट से जम्मू दहलता, सुरक्षाबलों ने विस्फोट को बरामद कर उसे नष्ट कर दिया. इसके बाद बीएस ड्राइवर तथा कंडक्टर से पूंछताछ की गई तो उन्होंने बताया था कि विस्फोट से भरा बैग एक महिला ने उन्हें दिया था तथा कहा कि जम्मू में उसका परचित उसे लेने आयेगा. महिला ने कहा था कि बैग में घर का सामान है.
अब सुरक्षाबलों ने जम्मू आने वाली बस में विस्फोटक भेजने वाली महिला को गिरफ्तार कर लिया है. महिला का नाम शमीम अख्तर है, जो बिलावर के ही भड्डू की रहने वाली है. पुलिस ने उस बस के चालक और सह चालक से महिला की शिनाख्त भी कराई है.
 दोनों ने महिला को पहचान लिया. जांच के सामने अब महिला ने विस्फोटक कहां से मिला? किसके कहने पर लिया? कहां भेजना था? किसको देना था? जैसे सवाल हैं जिनके जवाब तलाशने में पुलिस जुट गई है.
शुक्रवार को पुलिस ने पुख्ता सूचना के आधार पर शमीम को पकड़ा. बिलावर पुलिस ने बस के चालक और सह चालक से शुक्रवार को महिला को हिरासत में लेने के बाद शिनाख्त कराई है।.इसमें चालक ने कहा है कि यह वही महिला है, जिसने उन्हें बैग दिया था. 
अब पुलिस मामले में आगे की पूछताछ कर रही है. एक अक्तूबर को बिलावर से जम्मू आई निजी बस से विस्फोटक बरामद किया गया था. चालक और परिचालक के अनुसार विस्फोटक वाले बैग को एक महिला और पुरुष ने भेजा था.
बस ड्राइवर तथा उसके साथी कंडक्टर ने पुलिस को बताया था कि महिला द्वारा उन्हें 50 रुपये देकर कहा गया था कि यह बैग उनके बच्चे लेने आएंगे, आप उनको दे देना. सैन्य खुफिया तंत्र ने पुख्ता इनपुट देकर विस्फोटक बरामद करवाया था. पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियां उस महिला की तलाश में लगातार जुटी रहीं, जिसे अब गिरफ्तार कर लिया गया है.