बगदादी पर अमेरिकी हमले का वीडियो आया सामने: जमीन में बड़ा गड्ढा, खून से सने मांस के चीथड़े…



इराकी स्टेट टीवी ने एक फुटेज जारी किया है जिसमे दावा किया जा रहा है कि इस्लाममिक स्टेट के सरगना अबू-बकर-अल बगदादी को अमेरिका ने मार गिराया है। बता दें कि आज सुबह ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रम्प ने अपने ट्वीट के ज़रिए कहा था कि आज कुछ बड़ा होने वाला है। इसके बाद समाचार एजेंसियों के हवाले से खबर आई थी कि आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के सरगना बगदादी पर अमेरिका ने कार्रवाई की है। 
बता दें कि आतंकवाद से निपटने के लिए अमेरिका लम्बे समय से कार्रवाई करता आ रहा है। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के समय भी इस्लामिक आतंकवाद को रोकने के ड्रोन हमले तेज़ हुए थे।
ऐसी ही एक कार्रवाई को आज अमेरिका ने अंजाम दिया है जिसका प्रसारण इराक के एक सरकारी मीडिया ने किया। इस वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि खून से सने माँस के चीथड़े-कपड़े यहाँ वहाँ पड़े हुए हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आतंकवादी संगठन आईएस के सरगना बगदादी की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि यह फुटेज उसी जगह की है जहाँ अमेरिकी सेना ने रात में बम गिराए थे।
बता दें कि इस पूरे घटनाक्रम में इराक की ख़ुफ़िया एजेंसी की मदद से बगदादी की लोकेशन ट्रेस की गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिका के एक वरिष्ठ रक्षा अधिकारी और एक अन्‍य सूत्र के हवाले से यह कहा गया कि बगदादी की मौत की पुष्टि होनी अभी बाकी है। हालांकि डीएनए और बायोमेट्रिक जांच पूरी हो चुकी है। 

एक रक्षा अधिकारी के हवाले से यह भी कहा गया है कि बगदादी ने हमले के दौरान खुद को उड़ा लिया। हालाँकि अमेरिका इस पर दावा ज़रूर कर रहा है मगर इसपर अभी संशय बना हुआ है। बता दें कि बगदादी ने खुद को खलीफा भी घोषित कर रखा था और वह सार्वजनिक तौर पर सिर्फ एक बार जुलाई 2014 में मोसुल के अल-नूरी मस्जिद में नजर आया था और इराक तथा सीरिया में इस्लामिक स्टेट के जन्म की घोषणा की थी, इस मस्जिद पर इराकी सुरक्षाबलों ने 2017 में कब्जा कर लिया था।
बता दें कि यह जिहादी संगठन पूरी दुनिया में इस्लाम के प्रचार के बहाने आतंक और खून-खराबा फ़ैलाने के लिए कुख्यात है। इसी साल एक अप्रैल को जारी एक वीडियो में बगदादी को देखा गया था। यद्यपि यह स्पष्ट नहीं है कि यह वीडियो कब फिल्माया गया है मगर यह तय है कि पाँच साल में पहली बार बगदादी किसी वीडियो के ज़रिए नज़र आया है। 
अपने इस वीडियो में वह पूर्वी सीरिया के बगूज़ में चल रहे संघर्ष ख़त्म होने की बात कहता नज़र आ रहा है। साथ ही बता दें कि कुछ समय पहले श्रीलंका में हुए आतंकी हमले में भी इसी संगठन के संलिप्त होने की बात कही जा रही है। श्रीलंका में तीन अलग अलग शहरों में सीरियल बम धमाके हुए थे। इस दौरान करीब 500 से अधिक लोग घायल हो गए थे तो वहीं 300 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था।