“अब बस, हमला तो दूर, अब धमकी भी दी तो एक साथ 52 जगहों पर अमेरिका बरसायेगा मौत”.. ट्रम्प की चेतावनी गूंजी पूरी दुनिया में



अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रम्प की ताजपोशी के बाद लगातार उनका विरोध वामपंथी ही नही इस्लामिक जगत में होता आया है लेकिन अब उनके सख्त तेवरों ने पूरी दुनिया में उनकी कडक छवि प्रस्तुत करनी शुरू कर दी है.
 अमेरिका के सैन्य बेस पर केन्या में हमला किया गया है और ईराक में भी अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट से हमला किया गया है.. हालाकि इस हमले में अमेरिकी दूतावास सुरक्षित है लेकिन अब डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने तेवर कड़े कर दिए हैं.
विदित हो कि अमेरिका ने ईरान को साफ़ साफ़ दो टूक शब्दों में अपनी हद में रहने को कह डाला है. ईरान के युद्धउन्मादी होने के बाद अमेरिका ने उसके हमले तो दूर, अब बेवजह धमकी पर भी एक साथ 52 जगहों पर हमले की खुली चेतावनी दे डाली है.
 एक अनुमान के अनुसार यदि ये जंग हुई तो ईरान को बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. शनिवार रात इराक में अमेरिकी ठिकानों पर हमले के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धमकी दी है कि अगर ईरान ने हमला किया तो उसके 52 ठिकानों को निशाना बनाया जाएगा.
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा है कि इन 52 साइट्स में कई ईरान और ईरानी संस्कृति के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं. उन्‍होंने कहा कि इन ठिकानों और खुद ईरान को बहुत तेजी से और बहुत विध्‍वंसक तरीके से निशाना बनाया जाएगा. 
अमेरिका और ज्‍यादा धमकी नहीं चाहता है. डोनाल्ड ट्रम्प के इन तेवरों के बाद अब अमेरिका और ईरान युद्ध लगभग अवश्यंभावी लगने लगा है. अमेरिकी फौजी मुख्यालय में भी हलचल बढती दिखाई दे रही है