डोनाल्ड ट्रंप ने फिर भरी हुंकार.. इस्लामिक आतंकवाद को ख़त्म करने तक चुप नहीं बैठेगा अमेरिका



इस्लामिक आतंकवाद के बाद हमेशा से आक्रामक रहे अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ने एक बार फिर से हुंकार भरी है. ईरान के साथ जारी तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा है कि अमेरिका तब तक चुप नहीं बैठेगा जब तक इस्लामिक आतंकवाद का खात्मा नहीं हो जाता. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि जब तक मैं राष्ट्रपति हूं तब तक अमेरिका के दुश्मनों के खिलाफ कार्रवाई लेने में कोई हिचकिचाहट नहीं होगी
आज शुक्रवार को ओहियो में एक रैली को संबोधित करते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने अपने समर्थकों के सामने बड़ा बयान दिया. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका के दुश्मनों के खिलाफ कोई भी एक्शन लेने से हम कभी भी नहीं हिचकेंगे, हम कभी भी कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ एक्शन लेना बंद नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि हम अमेरिकी नागरिकों की जान बचाने के लिए किसी भी हद तक जाएंगे. इसके लिए हम कोई भी कसर नहीं छोड़ेंगे. हम कभी भी अमेरिका के दुश्मनों के खिलाफ एक्शन के लिए कोई बहाना नहीं बनाएंगे.
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने ‘कट्टर इस्लामिक आतंकवाद’ के खात्मे की दिशा में लगातार काम करने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई और कहा कि अमेरिकियों की जान-माल की सुरक्षा उनका पहला दायित्व है. ट्रंप ने एक सभा की तस्वीर के साथ ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मेरे प्रशासन में अमेरिका के दुश्मनों के लिए हम कोई बहानेबाजी नहीं चलने देंगे. हम अमेरिकियों की जान की रक्षा करने से कभी नहीं हिचकेंगे और हम कट्टर इस्लामिक आतंकवाद को हराने का काम कभी नहीं छोड़ेंगे.’
 अपने भाषण के दौरान उन्होंने मध्य पूर्व में अमेरिकी फौज की मौजूदगी को लेकर कहा कि हम दुनिया के अन्य देशों को बनाने के बाद अब अमेरिका के पुनर्निर्माण में लगे हुए हैं. हमारा लक्ष्य AMERICA FIRST का है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अब तक हम दूसरे देशों को बनाते थे, लेकिन अब वक्त आ गया है कि अपना देश खड़ा किया जाए, अपने देश का पुनर्निर्माण किया जाए. उन्होंने कहा कि सालों से दूसरे देशों के पुननिर्माण के बाद हम आखिरकार अपना राष्ट्र का पुननिर्माण कर रहे हैं.