आतंकी सरजील के बाद अब नंबर लग सकता है नफरत फ़ैलाने वाली स्वरा भास्कर का, एक मामले में पोस्को के तहत FIR दर्ज



स्वरा भास्कर जो एक कथित फिल्म अभिनेत्री है अब उसकी गिरफ़्तारी कभी भी संभव है क्यूंकि एक मामले में पोस्को के तहत FIR दर्ज करने के निर्देश दिए गए है 

CAA के विरोध में उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर में इस्लामिक चरमपंथियों ने दंगा फसाद किया था, दंगाइयों के खिलाफ यूपी पुलिस ने कार्यवाही करते हुए कईयों को दबोचा था, तब स्वरा भास्कर और इसके जैसे लोगो ने एक फेक न्यूज़ फैलाई थी की यूपी पुलिस के पुलिस कर्मियों ने मदरसे के बच्चे का रेप कर दिया 

अब इस मामले में जांच हुई है और खबर पूरी तरह फर्जी पायी गयी है, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने मुज़फ्फरनगर पुलिस को इस मामले में FIR दर्ज करने के आदेश दिए है 

आयोग ने उन तमाम लोगो के खिलाफ FIR करने के आदेश दिए है जिन्होंने इस फेक न्यूज़ को फैलाया था, पुलिस अब ऐसे तमाम लोगो की लिस्ट बना रही है जिन्होंने ये फेक न्यूज़ फैलाई थी, जिसमे स्वरा भास्कर भी शामिल थी 

देखिये किस प्रकार स्वरा भास्कर ने ये फेक न्यूज़ फैलाया था 


स्वरा भास्कर वही है जो अक्सर सोशल मीडिया पर हिन्दुओ के खिलाफ नफरत फैलाने का काम करती है, कठुवा मामले पर भी इसने हिन्दुओ के खिलाफ काफी नफरत फैलाई थी, दिल्ली के शाहीन बाग़ में इसने आतंकवादी सजरील इमाम के साथ मंच भी शेयर किया था 

अब देखना ये होगा की यूपी पुलिस FIR में इसका नाम दर्ज करती है या नहीं, चूँकि इसके त्वीट अभी भी मौजूद है, ये मुमकिन है की आतंकवादी सरजील इमाम के बाद अब अगला नंबर नफरत फैलाने वाली स्वरा भास्कर का लग जाये